Bhagat Singh Quotes, Thoughts And Slogan In Hindi

“Bhagat singh quotes” भगत सिंह भारत के प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी क्रांतिकारी थे। भगत सिंह का जन्म (Bhagat singh birthday) 28 सितंबर 1907 को बांग गांव जो अभी पाकिस्तान में है, इसी गांव में भगत सिंह का जन्म हुआ था। भगत सिंह का माता का नाम विद्यावती देवी और पिता का नाम सरदार किशन सिंह था। भगत सिंह आजादी के मतवाले थे।

भगत सिंह को बचपन से ही अंग्रेजों के प्रति बहुत ज्यादा ही गिरना थी। वह सरकारी स्कूलों (bhagat singh college) की किताबें जला दिया करते थे। इसी तरह गिरना का कारण उनके घर मैं क्रांतिकारी की मौजूदगी थी। पहले लाहौर में साणडस की हत्या और उसके बाद दिल्ली की केंद्रीय संसद असेंट्रल असेंबली में बम विस्फोट करके, “slogan of bhagat singh”

ब्रिटिश साम्राज्य के विरुद्ध खुले विद्रोह को बुलंदी प्रदान की। जिसके फलस्वरूप उन्हें (Bhagat singh death) 23 मार्च 1931 को इनके दो अन्य साथियों राजगुरु तथा सुखदेव के साथ फांसी पर लटका दिया गया। सारे देश आज भी इनके बलिदान (shahid bhagat singh) को बड़ी गंभीरता से याद करते हैं।

Bhagat singh quotes in hindi

दुश्मन की गोलियों का, हम सामना करेंगे, आजाद ही रहे हैं, आजाद ही रहेंगे। ~ भगत सिंह

 

यदि कोई युवा मातृभूमि की सेवा नहीं करता है, तो उसका जीवन व्यर्थ है। ~ भगत सिंह

 

मैं ऐसे धर्म को मानता हूं, जो स्वतंत्रता समानता और भाईचारा सिखाता है। ~ भगत सिंह

 

मेरे जज्बातों से इस कदर वाकिफ है , मेरी कलम मैं इश्क़ लिखना चाहूं , तो इंकलाब लिख जाता है। ~ भगत सिंह

 

ग़र इश्क करना ही है तो वतन से करो मरना ही है तो वतन की खातिर मरो। ~ भगत सिंह

 

मैं जीवन की अंतिम सांस तक देश के लिए लड़ता रहूंगा। ~ भगत सिंह

 

जब तक मेरे शरीर में प्राण है मैं अंग्रेजों की गुलामी नहीं करूंगा। ~ भगत सिंह

 

देश अगर हाथ जोड़ने से आजाद हो जाता तो यह जान लें भारत कभी गुलाम नहीं होता। ~ भगत सिंह

 

अगर मातृभूमि को आजाद करना है तो अंग्रेजों की बोली बोलना छोड़ दो उनका आचरण करना छोड़ दो। ~ भगत सिंह

 

मेरा नाम आज़ाद, मेरे पिता का नाम स्वतंत्रता और मेरा घर जेल हैं। ~ भगत सिंह

Bhagat Singh quotes

दूसरों को खुद से आगे बढ़ते हुए मत देखो। प्रतिदिन अपने खुद के कीर्तिमान तोड़ो, क्योंकि सफलता आपकी अपने आप से एक लड़ाई है। ~ भगत सिंह

 

भले ही मेरा प्राम्भिक जीवन आदिवासी इलाके में बीता है लेकिन मेरे दिल में संपूर्ण मातृभूमि बस्ती है। ~ भगत सिंह

 

सच्‍चा धर्म वही है जो स्‍वतंत्रता को परम मूल्‍य की तरह स्‍थापित करे। ~ भगत सिंह

 

दुश्मन की गोलियों का, हम सामना करेंगे आजाद ही रहे हैं, आजाद ही रहेंगे। ~ भगत सिंह

 

जीवित रहते मैं अपनी मातृभूमि की रक्षा के लिए निरंतर संघर्ष करता रहूंगा। ~ भगत सिंह

 

मेरा यह छोटा सा संघर्ष ही कल के लिए महान बन जाएगा। ~ भगत सिंह

 

किसी भी एक भारतवासी के जख्म का बदला हजारों जख्मों से लिया जाएगा यह चेतावनी नहीं घोषणा है। ~ भगत सिंह

 

मातृभूमि की इस दुर्दशा को देखकर जो तुम चुप बैठे रहे तो तुम्हारा मान-सम्मान और स्वाभिमान दुश्मनों के अधीन है। ~ भगत सिंह

 

जीवित रहते मैं अपनी मातृभूमि की रक्षा के लिए निरंतर संघर्ष करता रहूंगा। ~ भगत सिंह

 

आज का युवा संगठित हो रहा है यह मेरे देश की शक्ति का संगठन है। ~ भगत सिंह

Bhagat Singh dialogue

जिंदगी तो सिर्फ अपने कंधों पर जी जाती है, दूसरों के कंधे पर तो सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं। ~ भगत सिंह

 

प्रेमी, पागल और कवि एक ही चीज से बने होते हैं। ~ भगत सिंह ” (“Bhagat Singh quotes”)

 

सूर्य विश्व में हर किसी देश पर उज्ज्वल हो कर गुजरता है परन्तु उस समय ऐसा कोई देश नहीं होगा जो भारत देश के सामान इतना स्वतंत्र, इतना खुशहाल, इतना प्यारा हो। ~ भगत सिंह

 

राख का हर एक कण मेरी गर्मी से गतिमान है। मैं एक ऐसा पागल हूं जो जेल में भी आजाद है। ~ भगत सिंह

 

कोई भी व्यक्ति जो जीवन में आगे बढ़ने के लिए तैयार खड़ा हो उसे हर एक रूढ़िवादी चीज की आलोचना करनी होगी, उसमे अविश्वास करना होगा और चुनौती भी देना होगा। ~ भगत सिंह

 

क्रांति में सदैव संघर्ष हो यह जरुरी नहीं| यह बम और पिस्तौल की राह नहीं है। ~ भगत सिंह

 

कोई भी व्यक्ति तब ही कुछ करता है जब वह अपने कार्य के परिणाम को लेकर आश्व्स्त (औचित्य) होता है जैसे हम असेम्बली में बम फेकने पर थे। ~ भगत सिंह

 

जरूरी नहीं था कि क्रांति में अभिशप्त संघर्ष शामिल हो। यह बम और पिस्तौल का पंथ नहीं था। ~ भगत सिंह

 

जो व्यक्ति विकास के लिए खड़ा है उसे हर एक रूढ़िवादी चीज की आलोचना करनी होगी, उसमें अविश्वास करना होगा तथा उसे चुनौती देनी होगी। ~ भगत सिंह

 

इंसान तभी कुछ करता है जब वो अपने काम के औचित्य को लेकर सुनिश्चित होता है , जैसाकि हम विधान सभा में बम फेंकने को लेकर थे। ~ भगत सिंह

Bhagat Singh status

मैं एक मानव हूँ और जो कुछ भी मानवता को प्रभावित करता है उससे मुझे मतलब है। ~ भगत सिंह

 

“दिल से निकलेगी न मरकर भी वतन की उलफत, मेरी मिट्‌टी से भी खुशबू-ए वतन आएगी ।~ भगत सिंह

 

भगत सिंह भारत के एक प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी थे। वह अपने देशप्रेम के लिए आज के युवकों के लिए एक बहुत बड़ा आदर्श हैं।~ भगत सिंह

 

इंसान तभी कुछ करता है जब वो अपने काम के औचित्य को लेकर सुनिश्चित होता है, जैसाकि हम विधान सभा में बम फेंकने को लेकर थे। ~ भगत सिंह

 

क्रांति मानव जाति का एक अपरिहार्य अधिकार है। स्वतंत्रता सभी का एक कभी न ख़त्म होने वाला जन्म-सिद्ध अधिकार है। श्रम समाज का वास्तविक निर्वाहक है। ~ भगत सिंह

 

क्रांतिकारी सोच के दो आवश्यक लक्षण है – बेरहम निंदा तथा स्वतंत्र सोच। ~ भगत सिंह  (“Bhagat Singh quotes”)

 

मैं इस बात पर जोर देता हूँ कि मैं महत्वकांक्षा, आशा और जीवन के प्रति आकर्षण से भरा हुआ हूँ पर ज़रूरत पड़ने पर मैं ये सब त्याग सकता हूँ और वही सच्चा बलिदान है। ~ भगत सिंह

Additional reading:-

Leave a Comment